लिखने का बहाना ढूँढता हूँ

मैं लिखने का इक बहाना ढूँढता हूँ,
यूँ कि मिलने का बहाना ढूँढता हूँ,

यूँ तो मुश्किल है तुमसे मिलना शायाद,
इन लफ्ज़ों में बीता ज़माना ढूँढता हूँ,

तुम्हारी हर बात है इक कविता मेरे लिए,
अपनी कविता में तुम्हारी कोई निशानी ढूँढता हूँ,

मतलब निकालता हूँ तुम्हारी किसी पुरानी बात का,
खामोशी में भी कोई अनकहा अफसाना ढूँढता हूँ,

दोस्तों से भी मिलता हूँ कभी तो,
उनकी बातों में भी ज़िक्र तुम्हारा ढूँढता हूँ,

कभी तुम्हारी नाराज़गी, कभी तुम्हारी रुसवाई का डर,
कभी गलतफ़हमी  तो कभी अनचाही दूरी,
फिर यूँ मिलना कि जैसे कुछ हुआ ही ना हो,
वही बचपना मैं खुद में पुराना ढूँढता हूँ,

भटकता हूँ एक अन्जान मुसाफिर की तरह,
अपनी ओर बुलाता हुआ तेरा एक ईशारा ढूँढता हूँ,

वो कहते हैं कि तू मुझसे बहुत दूर है,
पहुँच नहीं सकती मेरी आवाज़ तुम तक,
मेरी दीवानगी की तुम्हे खबर दे सके,
मैं ऐसा कोई लफ्ज़ दीवाना ढूँढता हूँ,

मैं लिखने का इक बहाना ढूँढता हूँ।

‘आपकामित्र’ गुरनाम सिहं सोढी
२१ मार्च, २०१२

Advertisements

8 thoughts on “लिखने का बहाना ढूँढता हूँ

  1. The Myth says:

    khoobsurat sir….. main likhne ka ek bahaana dhoodhta hun…

  2. Anonymous says:

    "Kuch sochte ho… aaina talash karo."Beautiful is the word.Fazal.

  3. shukriya mithilesh and fazal bhai 🙂

  4. बेहतरीनतम ग़ज़ल!ऐसे बहाने ढूंढते रहिये और हमें अपनी कविताओं से सराबोर करते रहिये! 🙂

  5. यूँ ही लिखते रहिए…

  6. वाह………..बहुत बढ़िया सर.

  7. Anonymous says:

    meri deewanagi ki tumhe khabar de sake.. main koi aisa lafz deewana dhoondta hoon .. behatareen khyaal.. very very good… waah!!

  8. Anonymous says:

    meri deewanagi ki tumhe khabar de sake.. main koi aisa lafz deewana dhoondta hoon .. behatareen khyaal.. very very good… waah!!SKB

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s